Bewafa Shayari


कभी जो हम से प्यार बेशुमार करते थे,

कभी जो हम पर जान निसार करते थे,
भरी महफ़िल में हमको बेवफा कहते हैं,
जो खुद से ज़्यादा हमपर ऐतबार करते थे।