DIL SHAYARI


तुम्हारी याद के साए मेरे दिल के अँधेरे में,

बहुत तकलीफ देते हैं मुझे जीने नहीं देते,
अकेली राह में हमराह कोई मिल तो जाता है,
मगर कुछ दर्द हैं जो दिल बहलने नहीं देते।