Dosti Shayari


हम ना अजनबी हैं ना पराये हैं,

आप और हम एक रिश्ते के साये है,
जब जी चाहे महसूस कर लीजियेगा,
हम तो आपकी मुस्कुराहटों में समाये है।