Love Shayari Image In Hindi and Love Shayari Photos

Love Shayari Image in Hindi Download




खुश होना है तो बेवजह हो जाइए,
वजहें आजकल महँगी हो गई हैं।


LOVE SHAYARI IMAGES IN HINDI


कितना आसाँ था तिरे हिज्र में मरना जानाँ
फिर भी इक उम्र लगी जान से जाते जाते



अब मुझको आ गए हैं मनाने के सब हुनर
यूँ मुझसे `कुँअर' रूठ के जाने का शुक्रिया



कुछ रिश्तों को मुलाकातों की गरज नहीं होती...
दिल से ही याद करो वो निखर आया करतें हैं...
🌹😊



💕💕 तुम से जिद करते तो हम मांगते क्या.!
खुद से जिद करके तो तुमको मांगा था ..💕💕


Love Shayari Images


एक बार और देखकर आज़ाद कर दे  मुझे,
मैं आज भी तेरी पहली नज़र की क़ैद में हूँ !!



ग़म-ए-जहां को शर्म-सार करने वाले का क्या हुआ....
वो सारी उम्र इंतज़ार करने वाले का क्या हुआ।





Love Shayari Images

अगर आप अजनबी थे तो लगे क्यों नहीं,
और अगर मेरे थे तो मुझे मिले क्यों नहीं।


Love Shayari Image Hindi


जब_नाम_हो_गया_है...
तो_बदनाम_करेंगी_ही_ये दुनिया...



मैं जैसा हूँ, मुझे वैसा ही रहने दे,
अगर मैं सुधर गया तो तुझे मुझसे प्यार हो जाएगा !!



हमारी प्यास का अंदाज़ भी अलग है..
कभी दरियाओं को ठुकराते हैं..
तो कभी आंसू तक पी जाते हैं..



बिल्कुल वैसे जैसे ख्वाहिश होती है ,
सब की अपनी अपनी बारिश होती है ।



हुस्न के समझने को उम्र चाहिए जानाँ
दो घड़ी की चाहत में लड़कियाँ नहीं खुलतीं



मुझको ढुँढ लेता है, रोज किसी बहाने से,
दर्द वाकिफ हो गया है, मेरे हर ठिकाने से !!



रोक लिया खुद को लफ्ज़ उस तक ना पहुंचे,,
मालूम तो हो इंतजार किसे कहते है.!!
आजकल बस एक ही काम रह गया है
लोगों को भरोसा और दिल तोड़ो फिर sorry बोल दो



मेरी नींद से मुझे इसलिए प्यार है क्यूंकि उन्होने कहा था की,
हमे पाना तुम्हारे लिए सिर्फ एक ख्वाब है !!



बड़े याद आते है वो भूले बिसरे दिन,
कुछ आपके साथ, कुछ आपके बिन !!



एक जुगनू से दोस्ती कर के
मैं ने सूरज से इंतक़ाम लिया


Love Shayari HD Photo Download


मसरूफियत है, मेरे हर रोज़ का सुकून
मैं जब कुछ नहीं करता, थक जाता हूँ



बिन माँगे मिल रहा हो तो ख़्वाहिश फ़ुज़ूल है
सूरज से रौशनी की गुज़ारिश फ़ुज़ूल है



ये भी क्या कम है के दोनों का भरम क़ायम है
उसने बख़्शिश नहीं की हमने गुज़ारिश नहीं की



बदन उतार के खूंटी पे टाँग रक्खा है
मिरे लिबास मज़े से पड़े हैं बिस्तर पर ....



मोहब्बतों में दिखावे की दोस्ती न मिला
अगर गले नहीं मिलता तो हाथ भी न मिला



एक और मुलाकात को वो बेकरार हो,
बस पहली मुलाक़ात पे इतना खुला करें



"मेरी"..."शायरियो" का...बस इतना "उसूल" है......
तेरी "वाह" से..."मुकम्मल"...वर्ना "फ़िज़ूल" है......💘



न, मोहब्बत का कोई क़ुसूर नहीं,
उसे तो मुझसे रूठना ही था दिल मेरा शीशे सा साफ़,
और शीशे का अंजाम तो टूटना ही था !



तुझे भी गुरु पूर्णिमा मुबारक,
तुने भी बहुत कुछ सिखाया है....!!😊



तु कर ले हिसाब अपने हिसाब से,...
लेकीन उपर वाला लेगा हिसाब अपने हिसाब से......



कभी मुझ से भी कोई झूठ बोलो,
मैं हाँ मे हाँ मिलाना चाहता हूं.



मेरा क़ातिल भी परेशां है मेरे दोस्तों की दुआओं से.......!
के जब भी वार करता है, ख़ंजर टूट जाता है ...



कुछ अधूरे ख़्वाबों से सुलह कर लेता हूँ
बस इस तरह  रात से सुबह कर लेता हूँ



समझदार होने का ये नुकसान होता है की....
दिल की हजारों ख्वाहिशें, दिल मे ही रह जाती हैं।



कई दरख़्त मेरे साये में जवान हुए
मैं देवदार रहा हूँ उसे बता देना


Love Shayari Wallpaper Full HD


तू मुझे ढूंढ़, मैं तुझे ढुंढू
कोई हम में से रह गया है कहीं



बिछड़ के उससे लतीफे नहीं  सुनाए हैं
मैं बुर्दबार रहा हूँ उसे बता देना



सुनो ओ तुम मिरी जाना कभी तो हा या ना बोलो
ये तुम्हारा हमममम मेरी एक शब जान लेलेगा



क्या तुझे वो सब सुनाई देता है.. !
तेरी तस्वीर से जो रोज़ कहा करती हूं.. !!



तुम जब लड़ते हो तो बेहद अपने लगते हो
दिल को अच्छा लगता है तुम्हारा यूँ हक़ जताना !



हमको ही क्यों देते हो प्यार का इलज़ाम
ज़रा खुद से भी पूछों इतने प्यारे क्यों हो



अभी कदम भी न रखे महफील में
ओर उनकी आंखें गुलाबी हो गयी !!



चाय की आखिरी घूंट जैसी हो तुम..
जिसे न ख़त्म करना अच्छा लगता है और न छोड़ना.. 



बहुत हुए इम्तेहां अब तो फैसला सुना दे
मुझे कुर्बतें बख़्श दे या ख़ामियाँ गिना दे



हे आज़ादी, शब्दों से कैसे तेरा गुणगान करूँ ?
बड़ी कठिन मंजिल तेरी थी
कैसे मैं बयान करूँ ?



ना राख उड़ती है ..... ना धुआँ उठता है....
कुछ रिश्ते यूँ चुपचाप जला करते है..।।



कहीं कहीं मेरे लहजे में बोलता है तू
कहीं कहीं मेरे लहजे में सख्त उदासी है



सुनो....तुम जान हो मेरे
मुझे बेजान मत करना



तुम प्यार की बातें .....न किया करो हमसे...
मासूम हैं हम.....बातो से बहक जाते हैं.....



 मुस्कान के सिवा ___ कुछ न लायाकर चेहरे पर,
मेरी फ़िक्र हार जाती है ___ तेरी मायूसी देखकर 



सुन  पगली
सुबह हो तो तेरे  चेहरे की  धूप से हो
वरना तेरे  ख्वाबों की रात  अच्छी 



छाँव इतनी थी के सूरज भी बुझ गया मेरा
धूप  इतनी थी  के  साये भी जल  गये मेरे



एक कप ☕ चाय उनके नाम,
जिनके सिर में दर्द मेरी वजह से रहता हैं !!


Love Shayari Photo HD


पत्थर हूं मैं ...
चलो मान लिया,...
तुम तो हुनरमंद थे ...
तो तराशा क्यों नहीं ?




love shayari image


आज भी तेरे ख्यालों में खो कर चाय पी ली,
बिस्कुट रह गए.. !!


Love Shayari Image


कैसे मोहब्बत करूं बहुत गरीब हूँ साहब;
लोग बिकते हैं और मैं खरीद नहीं पाता ।



कुछ अधूरे ख़्वाबों से सुलह कर लेता हूँ,
बस इस तरह  रात से सुबह कर लेता हूँ??



ये मेरे चारों तरफ किस लिए उजाला है ?
तेरा ख़्याल है या दिन निकलने वाला है?



एक छोटी सी झलक तेरी..
और मुस्कुराता सा ये दिन मेरा....♥️



बहुत ही खुबसूरत सी चाहत है दिल की ...!!
तु जिंदगीभर साथ रहे या फिर जिंदगी न रहे ...!!



आशिक़ी, सब्र, तलब और तमन्ना बेताब ;
दिल का क्या रंग करूँ ख़ून-ए-जिगर होते तक ?



दिल की धड़कनें भी तेज़ हो जाती है,
जब तेरी आँखे सिर्फ मुझे निहारती है!!



लबों पे कुछ शब्द आ के ठहरे हैं
तु ऐसा कर
चूम के उन्हें परेशान कर दे।



तुझे जिंदगी भर याद रखने की #कसम तो नहीं ली,,,,
पर एक-पल के लिए भी तुझे भुल जाना मुश्किल है..!!



हर शाम किसीके लिए सुहानी नही होती
हर प्यार के पीछे कोई कहानी नही होती
कुछ तो असर होता है दो आत्मा के मेल का
वरना गोरी राधा सावले कान्हा की दीवानी न होती



मैं कान्हा था कान्हा हु और कान्हा ही रहुंगा
फ़ैसला तूझे करना है पगली
तूझे गोपी बनना है मीरा बनना है या मेरी राधा...



करो यकीन तो
बताऊं तुम्हें..
बहुत ख़ास...
बहुत ख़ास...
बहुत ख़ास हो तुम....!!



तू जैसी है
वैसी
पसन्द है मुझे ....💕



Love Shayari Images
दोनों हाथों से लूटती है हमें
कितनी ज़ालिम है तेरी अंगड़ाई|




कुछ हसीन लम्हे गुज़ारे थे जो मैंने साथ तुम्हारे,
तुम उन्हें वक्त कहते रहे और मैंने उन्हें जिंदगी बना लिया



मैं तो उसी लड़की से शादी करूँगा . . . . .
जो सुबह उठ के अलार्म बंद करके
मुझसे प्यार से कहे
कोई बात नहीं सो जाओ..



कुछ  लड़कियों  की  Smile  इतनी  प्यारी होती है कि,
दिल में तुरंत  शादी  वाली  Feeling आ  जाती है 😍



ये कौन सा इत्र... हवा में महक है....
तेरे ख्यालों सा... तेरी अदाओं सा...



मोहब्बत सिर्फ देखने से नही....
कभी कभी बातो से भी हो जाती है...!😍😘








जब दील एक है तो दील मे रहने वाली भी तो ,
एक ही होगी...!



तुम सच मे सुंदर हो या
मेरा नजरिया अच्छा है 🤔😆



अच्छा लगता है
तेरा नाम.........
मेरे नाम के साथ,
जैसे कोई सुबह जुड़ी हो
एक हसीन शाम के साथ.!



कैसे कहूं तेरे प्यार का मेरे
लिए क्या मोल है
मेरे बुख़ार का तू पेरासिटामोल है😘



वो शायरी की महफ़िल ही क्या,,,
जिसमे दिल जल कर खाक ना हो,,,,!!
मज़ा तो तब आता है चाहत का दोस्तों,,
जब दिल तो जले पर राख ना हो„„



बड़ा दिलचस्प है नशा तेरे प्यार का
कभी एक पल कभी पल-पल कभी हर पल.



जिस जिस ने मुहब्बत में,
अपने महबूब को खुदा कर दिया,
खुदा ने अपने वजूद को बचाने के लिए,
उनको जुदा कर दिया…



ये हवाएँ जो बे’ख़ौफ़ आ’कर मुझे चूम लेती है,
यक़ीनन ... तेरी छुहन के लिए मुझे बहुत तड़पाती हैं ..!!



तुझे रख लूँ दिल में छिपा के सनम..या इन पलकों पर बिठाऊँ,
मेरी खुद की नज़र ना कहीं लग जाये....मैं इतना तुझको चाहूँ..



जीना जैसे दुशवार हो गया
उफ्फ्फ्फ बेवज़ह प्यार हो गया...



यूँ तो कोई शिकायत नहीं मुझे मेरे आज से,
मगर कभी-कभी बीता हुआ कल बहुत याद आता है !!



टूटा तो हूँ मगर अभी बिखरा नहीं 'फ़राज़'
मेरे बदन पे जैसे शिकस्तों का जाल हो



हम हैं उस के ख़याल की तस्वीर
जिस की तस्वीर है ख़याल अपना!!



ये बात;
ज़रा गहरी है...!!
मेरी ज़िंदगी ;
तुममें ठहरी है...!!



ऐ तुम सुनो ना .....
तुझे मेरी नजर हमेशा
तलाशती रहती है
तू .....
इन नयनो पे रहम तो कर।



अब से इश्क़ समझो या ज़िद
मुझे हर सुबह तुम्हारा साथ चाहिये ....! !



फासले चाहे जो भी हो दरमां
    तेरे-मेरे
मंजिल तो बस तू है मेरी💕😍



सुबह शाम आजकल
दिल मेरा एक खुराक माँगने लगा है
दो चम्मच तेरी  बातें
चुटकी भर मीठी शरारतें
तीखी सी तेरी हँसी
और खट्टी मीठी बदमाशियां..



पलके बिछा कर तेरा
इंतजार करते हैं
यह  वह  गुनाह  है
जो हम बार-बार
करते हो करते हैं......



नज़र उतार लूँ या नज़र में उतार लूँ..
तुम आ जाओगे मोटू यूँ ही या फिर से पुकार लूँ....



तेरी शर्तो पर अगर करनी है मोहब्बत तुझे
तो रहने दे "यार"
ये सहूलियत तो मुझे सारा जहाँ देता है..!!



रूठने की अदाएं भी...क्या गज़ब थी...उसकी.....
गले लगाकर बोले...बात नहीं करनी मुझे...तुमसे......



मैंने तेरे लिए उस हद तक दुआ की है,
की तूजसे कोई इश्क़ करे तो भी मेरे जैसा करे...



अपनी हथेलियों पर लिखे
तेरे ख्वाब
मैं रोज पढता हूँ
क्योंकि प्यार से बड़ा
ख्वाब से बड़ा
कुछ भी नहीं
तेरे एहसास से बड़ा भी कुछ नहीं
तुम
तुम तो एक बूंद से प्यास बुझा लेती हो ..........!



ये दिल ओर उनकी निगाहों के साये
मुझे घेर लेते हैं बाहों के साये...........!

यह भी पढ़े
Newer Posts Newer Posts Older Posts Older Posts