-->

Shayari Ki Dayari Selected Shayari from My Dayari

Shayari Ki Dayari






फ़रमान अपनी हदों में रहने का आ गया है
वक़्त शायद ...अलविदा कहने का आ गया है____🎻

Shayari Ki Dayari Love


ख़ुदा की इतनी बड़ी काएनात में मैंने...💕
बस एक शख़्स को माँगा मुझे वही न मिला।....💕💕

Shayari Ki Dayari Hindi


अदा से.. इशारे से. मोहब्बत से
.. यूं हक जता जाना ...
लाजमी है सनम ...
...........तेरा दिल में यूं समा जाना..

💫 अपने वजूद पर फख्र है मुझे:कौन क्या सोचता है मलाल नहीं:😍👈
💫 तुम्हीं से है मेरी दुनिया,हँसी......😍👈
🦋 मेरी..मोहब्बत मेरी जिन्दगी हो   तुम......😘👈

नजरों का क्या कसूर जो दिल्लगी तुम से हो गई.
तुम हो ही इतने प्यारे कि मुहब्बत तुमसे हो गई........✍🏻💃🏻💔

🎻 शायरी की डायरी 🎻

कुछ पल के लिए ही अपनी बाहों मे सुला लो ‘जान,,,
अगर आँख खुली तो उठा देना ना खुली तो दफ़ना देना !!!😓

💖इश्क💖
वो करते हैं बात इश्क़ की,
पर इश्क़ के दर्द का उन्हें एहसास नहीं,
इश्क़ वो चाँद है जो दिखता तो है सबको,
पर उसे पाना सब के बस की बात नही..!!!!

🎻 शायरी की डायरी 🎻

तु वक्त की फिकर करना छोड़
ऐसे लम्हे जिंदगी में आते जाते रहेंगे

Shayari Ki Dayari Sad


यह अल्फाज है
टूटे दिल जुड़ जाएंगे
यह मुरझाए चेहरे फिर से खिल जाएंगे

इश्क़ हो रहा है
     उनसे
क्या किया जाए
      रोके
अपने आपको
      या
होने दिया जाए...

तोड़कर फेंक दी उसने मेरी तोहफे में दी हुई पाजेब..
बोली अगर खनकेगी तो तेरी बहुत याद आएगी...

🎻 शायरी की डायरी 🎻

वो कहते थे रह नही सकते तेरे बीना सब कहने की बात हैं,
रह भी रहे हैं वो ओर जी भी रहे हैं वो।।

क्या नशा है इश्क आज तक समझ ना पाये हम,
उन नशीली आँखों में कहीं हो ना जाऐं गुम,
युँ तो इश्क समझ नहीं आता ना जाने क्या बला थी ये
कि जुदा होने पे उनकी ये आँखे हो गई है नम..

Shayari Ki Dayari Download Hindi


मिलना है
तो ज़रा क़रीब से मिलो,
यूँ दूर-दूर रहकर
मुलाक़ात ज़रा अधूरी सी रहती है.....!!

🎻 शायरी की डायरी 🎻

एक दिन निकला सैर🚶‍♂को,,
   मेरे दिल 💞 में कुछ अरमान थे,!!
एक तरफ थी झाड़ियाँ🦠...
           एक तरफ, श्मशान 🗻थे,!!
पैर तले इक, हड्डी👢आई,,
            उसके भी यही बयान❣थे,!!
चलने वाले संभल कर चलना,,
              हम भी कभी इंसान 🙈 थे।।

दिल के टूटने से नही होती है आवाज़!
आंसू के बहने का नही होता है अंदाज़!
गम का कभी भी हो सकता है आगाज़!
और दर्द के होने का तो बस होता है एहसास!

तुझे पाने को कोई जिद्द तो नहीं ___ 💕
हा ___ 🌹
तुझे चाहने की मेरी कोई हद भी नहीं _💕

🎻 शायरी की डायरी 🎻

🍃🌹🍃लिफाफे में बंद कर लो अपनी तमाम जिंदगी,,,,,,,,,,,,
खुली किताबो के अक्सर पन्नें उड़ जाया करते हैं........ll🍃🌹🍃

गुलाब जैसे सुर्ख गुलाब है होंठ उनके,✍
नज़र भर देखते रहो तो खिलने लगते है।✍

मैं कारीगर हूँ साहब
उंगलियों से उसे गढ़ता हूँ
मिट्टी के हम पुतलों को बनाया उसने
उसे खुद की तरह मढ़ता हूँ,

Shayari Ki Dayari


🎻 शायरी की डायरी 🎻

क्या जाने कब उसकी आंँख खुले
वो एक बार मुझको देखेगा
यही सोचता हूंँ हर दिन मैं
और हर रात उससे लड़ता हूँ,

Shayari Ki Dayari English

तन मेरा जो पिंजर हो गया
उसकी बाट जोहते हुए
ना हार फिर भी माना मैं
आज फिर बात पर अड़ता हूँ!!

हद से ज्यादा प्यार कर बैठा था उस पगली को....
इसीलिए छोड़ा उसने क्योंकि...
सीमा पार करने पर सीधा गोली लगती है सीने...
उसने तो सीधा ख़ंजर ही चला दिया ....
कुछ ही दिनों में मुझे अंदर तक रुला दिया....

Shayari Ki Dayari

मुस्कान  आ जाती है मेरे होंठों पर तेरे दीदार से
बताओ क्या नाम रखे तेरा हम प्यार से🤟
चाँद का हुस्न भी जमीन से है
चाँद पर चाँदनी नही होती🤟

लोग मुझे कहते है रंग पीला पड़ गया तेरा
Ufffffff इन्हे क्या पता खून चूसती है यादे किसी की🤟

Shayari Ki Dayari Image In Hindi

मासूम बचपन ,
गुमराह जवानी मोहताज बुढ़ापा
बे-रहम मौत बस यही जिंदगी है 🤟

नज़ाकत है आंखों में या सीरत है ये तुम्हारी,
मुस्कराके क़त्ल करते हो या बस आदत है ये तुम्हारी

इश्क मुहब्बत तो सब करते हैं!
गम-ऐ-जुदाई से सब डरते हैं
हम तो न इश्क करते हैं न मुहब्बत!
हम तो बस आपकी एक मुस्कुराहट पाने के लिए तरसते हैं!

तासीर किसी भी दर्द की मीठी नहीं होती,
वजह यही है कि आँसू भी नमकीन होते हैं...!
तुमसे मिलना गीत, ग़ज़ल कव्वाली होती है
रोशन होता है हर दिन, हर रात दीवाली होती है🤟

खूबसूरती अक्सर सांवलेपन में ही होती है
गोरे तो तब भी फरेबी थे और अब भी फरेबी🤟

वक्त गुजारने के लिए, दोस्तों को नही रखा जाता साहब,
दोस्तों का साथ निभाने के लिए, वक्त रखा जाता है...! 🥰

सुनो...🙈
मैं खुद इश्क हो गई हुँ, 🌹
तुम से मोहब्बत करते करते💕😘😍😍
कुछ तुमको भी अज़ीज़ हैं अपने सभी उसूल......!!!! 😝😏

कुछ हम भी इत्तिफ़ाक़ से ज़िद्द के मरीज़ हैं......!!!!😜🙈
शिकायत" और "दुआ" में जब एक ही शख़्स हो

समझ लो "इश्क़" करने की अदा आ गयी तुम्हें🤟
👉✏हम थे,तुम थे कुछ जज्बात भी तो थे, अरे छोड़ो कुछ नहीं,
अल्फाज़ ही तो थे🤟

हर एक इंसान की दो कहानियाँ होती हैं
एक वो...जो सबको सुनाता है
एक जो...वो सबसे छुपाता है🤟

-💕-:यह भी पढ़ें :--💕